menu svg image

LEO

आज का राशिफल

LEO LEO (सिंह) (जिनका नाम दि, चा, झ, थ से शुरू होता है)
कुछ ऐसी घटनाएँ आपकी परेशानी का कारण बन सकती हैं, जिन्हें टालना मुमकिन न हो। लेकिन आप ख़ुद को शांत बनाए रखें और हालात से निपटने के लिए तुरंत प्रतिक्रिया न करें। विदेशों में पड़ी आपकी जमीन आज अच्छे दामों में बिक सकती है जिससे आपको मुनाफा होगा। आपका मज़ाकिया स्वभाव सामाजिक मेल-जोल की जगहों पर आपकी लोकप्रियता में इज़ाफ़ा करेगा।

शुभ रंग : लाल || शुभ नंबर : 6

  • 80%

    स्वास्थ

  • 20%

    धन सम्पत्ति

  • 20%

    परिवार

  • 20%

    प्रेम

  • 70%

    व्यवसाय

  • 20%

    वैवाहिक जीवन

अपनी कुंडली बनवाने के लिए और जीवन में आई हर समस्या के समाधान के लिए अभी हमसे संपर्क करें

(+91) 7800038342 , (+91) 7905007376

सिंह राशि वालों के यश में वृद्धि के योग हैं , मान - सम्मान में वृद्धि होगी प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी , लम्बे समय से जिस कार्य के लिए आप मेहनत कर रहे थे, उस कार्य में आपको सफलता मिलेगी ऐसे योग बने हुए हैं , आपके कार्य की प्रशंसा होगी, वाहवाही होगी। वाहन से लाभ के योग हैं , वाहन खरीदना चाहते हैं, भौतिक सुख - सुबिधा की वस्तुएँ खरीदना चाहते हैं विल्कुल खरीद सकते हैं। नए दोस्त बनेगें, नए रिस्तेदार बनेगें। आर्थिक दृश्टिकोण से समय बहुत अच्छा हैं यदि आप नौकरी - व्यवसाय, या पढ़ाई- लिखाई करते हैं तो आपको नयी उपलब्द्धियाँ मिल सकती हैं।

शुभ रंग : हरा फिरोजी || शुभ नंबर : 5

  • 88%

    स्वास्थ

  • 91%

    धन सम्पत्ति

  • 85%

    परिवार

  • 92%

    प्रेम

  • 79%

    व्यवसाय

  • 85%

    वैवाहिक जीवन

अपनी कुंडली बनवाने के लिए और जीवन में आई हर समस्या के समाधान के लिए अभी हमसे संपर्क करें

(+91) 7800038342 , (+91) 7905007376

स्वास्थ्य: - यह महीना स्वास्थ्य के दृष्टिकोण से कमज़ोर रहने की संभावना है। राशि स्वामी सूर्य महीने की शुरुआत में षष्ठेश और सप्तमेश शनि के साथ सप्तम भाव में विराजमान रहेंगे जिससे स्वास्थ्य में गिरावट आ सकती है। मंगल भी उच्च राशिगत होकर शुक्र के साथ छठे भाव में और राहु आठवें भाव में रहेंगे जो स्वास्थ्य समस्याओं को सीधा-सीधा दर्शाते हैं इसलिए अपने स्वास्थ्य का पूरा ध्यान रखें। देव गुरु बृहस्पति आपकी राशि पर दृष्टि डालकर आपको इन सभी समस्याओं से बचाने की कोशिश करेंगे, फिर भी आपको यह तो ध्यान रखना ही होगा कि स्वास्थ्य कमज़ोर रह सकता है और उसके लिए आपसे जितना बन पड़े, उतनी मेहनत करें। कुछ नई दिनचर्या बनाने के लिए अच्छा समय है। अपने शरीर को समय दें और तंदुरुस्त बने रहने के लिए प्रयास करें। कैरियर: - करियर के दृष्टिकोण से यह महीना मध्यम रहने की संभावना है। दशम भाव के स्वामी शुक्र महाराज महीने की शुरुआत में आपके छठे भाव में मंगल महाराज के साथ विराजमान रहेंगे, जो आपको कार्यक्षेत्र में खूब मेहनत करने का जज्बा प्रदान करेंगे। इससे आप अपनी नौकरी में बहुत ज्यादा प्रयास करेंगे और खूब मेहनत करेंगे। 7 मार्च को शुक्र दशम भाव में आ जाएंगे और मंगल भी 15 मार्च को दशम भाव में आ जाएंगे। इससे आपको अपने कार्यक्षेत्र में कुछ अच्छा लाभ होने की उम्मीद करनी चाहिए। जहां तक व्यापार करने वाले जातकों का सवाल है तो महीने की शुरुआत में सूर्य और शनि, बुध के साथ सप्तम भाव में विराजमान रहेंगे। इससे व्यापार में कुछ उतार-चढ़ाव दिखाई दे सकता है लेकिन सूर्य के 14 मार्च को अष्टम भाव में चले जाने और 15 तारीख को मंगल के सप्तम भाव में आ जाने से व्यापार में अचानक से कुछ बदलाव दृष्टिगोचर हो सकते हैं, जिनके लिए आपको पहले से तैयार रहना चाहिए। आपको इस महीने अपने व्यापार को उन्नत बनाने के लिए कुछ नए और बड़े बदलाव करने की आवश्यकता होगी, तभी आप अपने व्यापार को सुचारू रूप से आगे बढ़ा पाएंगे। व्यक्तिगत संबंध: - यदि आपके प्रेम और वैवाहिक जीवन की बात करें तो सर्वप्रथम प्रेम जीवन अनुकूल रहेगा। पंचम भाव के स्वामी देव गुरु बृहस्पति नवम भाव में रहेंगे और वहां से पंचम भाव को देखेंगे जिससे आपका प्रेम जीवन मधुर बना रहेगा। आप और आपके प्रियतम के बीच प्रेम की भावना के साथ-साथ अपनत्व भी बढ़ेगा और एक-दूसरे पर विश्वास भी बढ़ेगा। आप एक-दूसरे को मान सम्मान देंगे और एक-दूसरे के सुख-दुख में साथी बनेंगे। इससे आपका प्यार और परिपक्व होगा। जहां तक विवाहित जातकों की बात है तो वैवाहिक जीवन में तनाव रह सकता है। सूर्य, शनि और बुध महीने की शुरुआत में आपके सप्तम भाव में होंगे, तो वहीं मंगल और शुक्र के छठे और राहु के अष्टम भाव में होने से सप्तम भाव पीड़ित अवस्था में रहेगा जिससे वैवाहिक जीवन में तनाव की स्थिति रहेगी। महीने के उत्तरार्ध में भी मंगल और शुक्र सप्तम भाव में आ जाएंगे जिससे कुछ तो प्रेम भाव बढ़ेगा लेकिन समस्याएं सामने आ सकती हैं। जीवनसाथी के स्वास्थ्य का भी ध्यान रखें। सलाह: - रविवार के दिन सूर्य देव को अवश्य अर्घ्य दें। शनिवार के दिन पीपल के पेड़ के नीचे सरसों के तेल का दीपक जलाएं और श्री बजरंग बाण का पाठ करें। शनिवार के दिन काले तिल का दान भी अवश्य करें। मंगलवार के दिन छोटे बालकों को गुड़ और चने का प्रसाद बांटें। सामान्य:- यह महीना आपके लिए बहुत महत्वपूर्ण साबित होने वाला है। राशि स्वामी सूर्य महीने की शुरुआत में शनि के साथ सप्तम भाव में होने से जीवन में उतार-चढ़ाव की स्थिति बनेगी। चाहे आप व्यापार करते हो या आपका निजी जीवन हो, दोनों में ही उतार-चढ़ाव की स्थितियों का सामना आपको करना पड़ सकता है। मंगल और शुक्र के महीने की शुरुआत में छठे भाव में और राहु के अष्टम भाव में होने से स्वास्थ्य में भी उतार-चढ़ाव का सामना करना पड़ेगा। हालांकि देव गुरु बृहस्पति आपको बीच-बीच में राहत प्रदान करते रहेंगे, फिर भी आपको अपनी ओर से समस्याओं पर विजय पाने के लिए प्रयास करने होंगे। विदेश यात्रा के लिए समय अनुकूल रहेगा। हालांकि खर्च बहुत ज्यादा रहेंगे। आपसी संबंधों में उतार-चढ़ाव के साथ-साथ कुछ अपनों का सहयोग प्राप्त होगा। प्रेम संबंधों में निरंतरता रहेगी जबकि वैवाहिक जीवन में तनावपूर्ण स्थितियों का निर्माण हो सकता है। आपको इस महीने सावधानी से रहना होगा। वित्त: - आर्थिक दृष्टिकोण से देखें तो यह महीना आपके लिए मिश्रित परिणाम लेकर आएगा। महीने की शुरुआत में ही मंगल और शुक्र छठे भाव में तथा राहु अष्टम भाव में विराजमान होकर आपके खर्चों को बढ़ाएंगे। खर्चों की गति इतनी ज्यादा होगी कि आपके लिए उन्हें संभालना मुश्किल होगा और इसका असर सीधे-सीधे आपकी आर्थिक स्थिति पर पड़ेगा। दूसरे भाव में केतु के उपस्थित होने के कारण धन संचय करने में समस्या आएगी। केवल देव गुरु बृहस्पति ऐसे हैं, जो आपको इन समस्याओं से निकालने में मददगार बनेंगे। हालांकि महीने के उत्तरार्ध में मंगल और शुक्र के सप्तम भाव में जाने से व्यावसायिक आमदनी बढ़ने से आपकी आर्थिक स्थिति में कुछ सुधार होगा और नौकरी में भी पदोन्नति के कारण कुछ तनख्वाह वृद्धि आपको मिल सकती है लेकिन इस महीने आपको एक बात का ध्यान रखना होगा कि बिना सोचे-समझे कहीं निवेश करने से बचें और धन को कुछ समय के लिए रोकने की कोशिश करें। व्यर्थ के खर्चों से जितना बच कर रहेंगे, उसी से आपकी आर्थिक स्थिति ठीक हो पाएगी। मित्र एवं परिवार:- यह महीना पारिवारिक जीवन के दृष्टिकोण से उतार-चढ़ाव से भरा रहने की आशंका है। दूसरे भाव में पूरे महीने केतु महाराज उपस्थित रहेंगे तथा 15 मार्च से जब मंगल सप्तम भाव में आकर द्वितीय भाव को देखेंगे तो वह समय कुटुंब के लोगों के बीच आपसी तनाव और टकराव को बढ़ा सकता है। आपसी सामंजस्य कमज़ोर होने के कारण आपको अनेक चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है और इससे परिवार में टकराव की स्थिति बन सकती है। हालांकि बृहस्पति की दृष्टि आपके पंचम भाव पर रहने से आपको संतान और भाई बहनों से सुख मिलेगा। चतुर्थ भाव के स्वामी मंगल के महीने की शुरुआत में छठे भाव में होने से संपत्ति संबंधित विवाद जन्म ले सकते हैं। परिवार में कुछ अशांति हो सकती है लेकिन महीने के उत्तरार्ध में इन सब चुनौतियों में कमी आएगी और परिवार में सुख-शांति का वास होगा। हालांकि इस पूरे महीने आपके माता-पिता के स्वास्थ्य में उतार-चढ़ाव देखने को मिल सकता है, उनके स्वास्थ्य का ध्यान रखें।

शुभ रंग : || शुभ नंबर :

  • 88%

    स्वास्थ

  • 91%

    धन सम्पत्ति

  • 85%

    परिवार

  • 92%

    प्रेम

  • 79%

    व्यवसाय

  • %

    वैवाहिक जीवन

अपनी कुंडली बनवाने के लिए और जीवन में आई हर समस्या के समाधान के लिए अभी हमसे संपर्क करें

(+91) 7800038342 , (+91) 7905007376

ध्यान केंद्रित करते हुए लक्ष्य को निर्धारित करने से सफलता प्राप्त हो सकती है। सम्पत्ति से सम्बंधित मामलों में रूकावट या परेशानी हो सकती है। घर का माहौल खुशनुमा रहेगा। शासकीय मामले सुलझ जायेगे।

शुभ रंग : || शुभ नंबर :

  • 88%

    स्वास्थ

  • 91%

    धन सम्पत्ति

  • 85%

    परिवार

  • 92%

    प्रेम

  • 79%

    व्यवसाय

  • %

    वैवाहिक जीवन

अपनी कुंडली बनवाने के लिए और जीवन में आई हर समस्या के समाधान के लिए अभी हमसे संपर्क करें

(+91) 7800038342 , (+91) 7905007376